Friday , February 21 2020
Indian Railways
फाइल फोटो

कुंभ मेले में भीड़ प्रबंधन के लिए रेलवे वीडियो एनालिटिक्स अपनाएगी

भारतीय रेलवे कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) समेत विभिन्न प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल से इलाहाबाद शहर में आगामी कुंभ मेले में आनेवाली भीड़ का प्रबंधन करेगी, जिसके लिए करीब 800 विशेष रेलगाड़ियां चलाई जाएंगी।

रेलवे स्टेशनों और उसके आसपास के इलाकों में अर्धकुंभ मेला के दौरान भीड़ को नियंत्रित करने के लिए पहली बार आईबीएम इंटेलिजेंट वीडियो एनालिटिक्स का इस्तेमान कर रही है।

कुंभ रेलवे सेवा एक नया मोबाइल एप है, जिसमें जल्द ही रेल यात्रियों को सूचनाएं प्रदान करने के लिए लांच किया जाएगा, जिस 10 करोड़ से ज्यादा लोगों के डाउनलोड करने की उम्मीद है। यह संख्या कई देशों की कुल आबादी से भी ज्यादा है।

उत्तरी-मध्य रेलवे के महाप्रबंधक राजीव चौधरी ने आईएएनएस को बताया, “आईबीएम की एआई वीडियो एनालिटिक सेवा की तैनाती के अलावा बड़ी मात्रा में सीसीटीवी कैमरे और एलईडी स्क्रीन्स भी लगाई जाएगी।”

साथ ही सोशल मीडिया पर भी धार्मिक यात्रियों को रियल-टाइम सूचनाएं प्रदान की जाएंगी।

प्रयागराज में कुंभ मेला गंगा, जमुना और रहस्यमयी सरस्वती के संगम पर 15 जनवरी से चार मार्च के दौरान आयोजित किया जा रहा है।

इसे दुनिया का सबसे बड़ा मेला माना जा रहा है, जहां 10 करोड़ से ज्यादा भीड़ जुटेगी और ढाई महीने तक चलनेवाले इस मेले में लोग पवित्र गंगा नदी में डुबकी लगा कर अपने पाप धोएंगे।

चौधरी ने कहा, “इसमें कोई शक नहीं है कि इतनी भीड़ का स्टेशनों पर प्रबंधन चुनौतीपूर्ण है, लेकिन हमें भरोसा है कि हम इसे सफल आयोजन बनाएंगे।”

स्टेशनों पर अन्य अवसरंचना परियोजनाओं समेत नए प्लेटफार्म, फुट ओवर ब्रिज और स्काई वॉक का काम जारी है, ताकि यात्रियों की परेशानी न हो।

इसके लिए शुरू की जानेवाली 800 विशेष रेलगाड़ियों की समय सारिणी जल्द ही प्रकाशित की जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *