National

श्रीखंड महादेव यात्रा के दौरान श्रद्धालुओ के ऊपर ग्लेशिय ढह गया

हिमाचल प्रदेश के कुल्लू जिले में श्रीखंड महादेव यात्रा के दौरान ग्लेशियर का एक हिस्सा ढह गया और इसकी चपेट में आकर चार श्रद्धालु गंभीर रूप से घायल हो गए। इलाके में भारी बारिश के कारण भूस्खलन हो रहे हैं, जिससे कई रास्ते भी बंद हो गए हैं। इसे देखते हुए अधिकारियों ने 15 जुलाई से शुरू हुई तीर्थयात्रा पर अस्थायी रूप से रोक लगा दी है।

पुलिस ने कहा, “मंगलवार रात की घटना के बाद एक बचाव अभियान शुरू किया गया। घायल तीर्थयात्रियों को पार्वती बाग लाया गया, जहां उन्हें प्राथमिक उपचार दिया गया।”

10 दिवसीय यात्रा के दौरान इस वर्ष लगभग 15 हजार तीर्थयात्रियों के श्रीखंड महादेव के दर्शन करने की उम्मीद है।

एक अधिकारी ने कहा, “किसी भी श्रद्धालु को मेडिकल परीक्षण के बिना 17,600 फुट की ऊंचाई पर स्थित श्रीखंड महादेव शिखर पर जाने की अनुमति नहीं है।”

तीर्थयात्रियों को यात्रा पर जाने से पहले पुलिस के पास पंजीकरण कराना होता है। राज्य की राजधानी शिमला से लगभग 150 किलोमीटर दूर, जौन से लोग अपनी यात्रा शुरू करते हैं।

तीर्थयात्री 72 फुट ऊंचे शिव लिंगम के दर्शन करने के लिए ऊबड़-खाबड़, ठंडे और दुर्गम इलाके से होकर गुजरते हैं, जिसमें कम से कम तीन दिन लगते हैं। श्रीखंड महादेव शिखर पर उनकी यात्रा का समापन होता है।

भक्तों का मानना है कि भगवान शिव ने श्रीखंड पर बैठकर ध्यान लगाया था और पांडवों ने भी अपने 12 साल के वनवास के दौरान इस चोटी पर चढ़ाई की थी।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.