National

क्वारंटाइन सेंटर की छत से कूदकर युवक ने दी जान

युवक यहां से निकलकर अपने गांव जाने की कोशिश भी कर चुका था। पीड़ित युवक मानसिक तनाव में आ गया। लिहाजा, रविवार की शाम उसने छठी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली।

ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क स्थित गलगोटिया कॉलेज में बने क्वारंटाइन होम में रखे गए कोराना संक्रमण के संदिग्ध मरीज युवक ने रविवार की शाम छठी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली।

जिला प्रशासन ने रात में अधिकृत बयान जारी कर कहा कि ग्रेटर नोएडा के नॉलेज पार्क स्थित गलगोटिया कॉलेज परिसर में बने कोरंटाइन होम में युवक ने आत्महत्या कर ली।

जिले के उप-सूचना निदेशक ने आईएएनएस से कहा, “युवक का नाम मोहम्मद गुलजार (32) था। वह नोएडा के फेज-2 में रहता था। इस युवक को संदिग्ध संक्रमित मानकर कोरंटाइन सेंटर में भर्ती किया गया था। अभी तक उसकी रिपोर्ट नहीं आई है। रिपोर्ट की प्रतीक्षा की जा रही है।”

जिला सूचना उप-निदेशक ने आगे बताया कि मामले की न्यायिक जांच के आदेश दे दिए गए हैं। जांच अपर जिला अधिकारी करेंगे।

देर रात घटना और जांच अपर जिलाधिकारी द्वारा कराए जाने की पुष्टि जिलाधिकारी सुहास एल.वाई. ने भी की है।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक, आत्महत्या करने वाला युवक सेंटर प्रभारी से कई दिनों से अपनी जांच रिपोर्ट मांग रहा था। उसे रिपोर्ट नहीं दी गई थी। युवक यहां से निकलकर अपने गांव जाने की कोशिश भी कर चुका था। पीड़ित युवक मानसिक तनाव में आ गया। लिहाजा, रविवार की शाम उसने छठी मंजिल से कूदकर आत्महत्या कर ली।

आत्महत्या करने वाले युवक की उम्र करीब 32 साल थी। पता चला है कि गलगोटिया कॉलेज में बने इस कोरंटाइन सेंटर से पहले भी कई गंभीर शिकायतें आ रही थीं। यहां मौजूद स्टाफ का व्यवहार भी मरीजों के साथ गलत था। स्थानीय प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने मगर इस शिकायतों को लगातार नजरअंदाज किया, जिसकी परिणति रविवार शाम इस घटना के रूप में सामने आई।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.