Saturday , December 14 2019
Virat Kohli
विराट कोहली, फोटो - आईएएनएस

पहली बार कप्तानी कर रहे डी कॉक के अर्धशतक पर विराट की पारी ने फेरा पानी

पहली बार कप्तानी कर रहे क्विंटन डी कॉक अर्धशतक लगाने के बाद भी अपनी टीम दक्षिण अफ्रीका को जीत नहीं दिला सके। कप्तान विराट कोहली ने बेहतरीन पारी खेल उनकी मेहनत पर पानी फेर भारत को बुधवार को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टी-20 मैच में सात विकेट से जीत दिलाई। दक्षिण अफ्रीका ने डी कॉक के 52 और टेम्बा बावुमा के 49 रनों के दम पर 20 ओवरों में पांच विकेट के नुकसान पर 149 रनों का सम्मानजनक स्कोर खड़ा किया था। इस लक्ष्य को भारत ने 19 ओवरों में तीन विकेट खोकर हासिल कर लिया।

आई.एस. बिंद्रा पंजाब क्रिकेट संघ स्टेडियम में खेल गए इस मैच में कोहली ने 52 गेंदों पर चार चौके और तीन छक्कों की मदद से नाबाद 72 रनों की पारी खेली। शिखर धवन (40) हालांकि अर्धशतक से चूक गए। कोहली को उनकी पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।

इसी के साथ भारत ने तीन मैचों की टी-20 सीरीज में 1-0 की बढ़त ले ली है। धर्मशाला में पहला मैच बारिश के कारण रद्द हो गया था।

आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारत को चौथे ओवर की पांचवीं गेंद पर रोहित शर्मा के रूप में पहला झटका लगा। 12 रन बनाने वाले रोहित 33 रनों के कुल स्कोर पर पवेलियन लौटे।

धवन और कोहली ने फिर दूसरे विकेट के लिए 61 रनों की साझेदारी की। धवन अर्धशतक की ओर बढ़ रहे थे लेकिन डेविड मिलर के एक बेहतरीन कैच ने उनकी पारी का अंत कर दिया। उन्होंने अपनी पारी में चार चौके और एक छक्का मारा।

ऋषभ पंत एक बार फिर अपना बल्ला नहीं रोक पाए। पदार्पण मैच खेल रहे बीजरेन फॉट्यून की गेंद पर तबरेज शम्सी ने उनका कैच पकड़ा।

कोहली ने इस बीच अपना अर्धशतक पूरा किया। इसी के साथ कोहली टी-20 में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज बन गए हैं। इस मामले में उन्होंने रोहित शर्मा की पीछे छोड़ा है। कोहली के अब टी-20 में 2440 रन हो गए हैं। वहीं रोहित के 2434 रन हैं।

श्रेयस अय्यर 16 रन बनाकर नाबाद रहे और कप्तान के साथ टीम को जीत दिला कर लौटे। अय्यर ने ही भारत के लिए विजयी चौका मारा।

इससे पहले, दक्षिण अफ्रीका के दो बल्लेबाजों के सिवाए कोई और बल्लेबाज तेजी से रन नहीं बना सका। इस सीरीज में कप्तानी कर रहे डी कॉक ने 37 गेंदों पर आठ चौकों की मदद से 52 रनों की पारी खेली, लेकिन उनके सलामी जोड़ीदार रीजा हैंड्रिक्स सिर्फ छह रन ही बना सके। उन्हें चहर ने 31 के कुल स्कोर पर आउट किया।

बावुमा ने कप्तान का साथ दिया और दोनों ने दूसरे विकेट के लिए 57 रनों की साझेदारी की। इन दोनों के रहते टीम के बड़े स्कोर की उम्मीदें जिंदा थीं। अर्धशतक पूरा करने के बाद मेहमान कप्तान को भारतीय कप्तान कोहली ने नवदीप सैनी की गेंद पर बेहतरीन कैच पकड़ पवेलियन भेज मेहमान टीम को बड़ा झटका दिया। रासी वान डर डुसैन एक रन के निजी स्कोर पर रवींद्र जडेजा को उन्हीं की गेंद पर कैच दे बैठे।

यहां से बावुमा भी रन गति को तेज नहीं कर पाए। 18वें ओवर की पहली गेंद पर बावुमा ने चहर की गेंद पर बड़ा शॉट खेलने का प्रयास किया लेकिन उनका शॉट सीधा जडेजा के हाथों में गया। उन्होंने 43 गेंदों पर तीन चौके और एक छक्के की मदद से 49 रन बनाए। डेविड मिलर (18) को हार्दिक पांड्या ने बोल्ड कर मेहमान टीम को पांचवां झटका दिया।

नवदीप सैनी द्वारा फेंके गए पारी के आखिरी ओवर में ड्वायन प्रीटोरियस (नाबाद 10) और आंदिले फेहुलक्वायो (नाबाद 8) ने एक-एक छक्के की मदद से 16 रन लेकर अपनी टीम को अपेक्षाकृत सम्मानजनक स्कोर दिया।

भारत के लिए चहर ने दो सफलताएं अर्जित कीं। सैनी, जडेजा और हार्दिक को एक-एक विकेट मिला।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *