National

इस्कॉन ने भक्तों से मंदिर नहीं आने की अपील की

मथुरा स्थित मशहूर इस्कॉन मंदिर ने एडवाइजरी जारी करते हुए सभी विदेशी भक्तों से अगले दो महीने तक मंदिर नहीं आने की अपील की है। एडवाइजरी को दूसरे देशों में स्थित इस्कॉन मंदिर के जरिए भक्तों तक पहुंचाया गया है।

इस एडवाइजरी को कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए और मथुरा के पड़ोसी जिले आगरा में बीमारी के अधिकतम संदिग्ध मामले पाए जाने के बाद जारी किया गया।

दुनियाभर में, विशेष तौर से मथुरा में इस्कॉन मंदिर भगवान कृष्ण के भक्तों की बड़ी संख्या में आकर्षित करते हैं जिनको इंटरनेशनल सोसाइटी फॉर कृष्णा कॉन्शसनेस द्वारा संचालित किया जाता है।

मंदिर कोरोना वायरस को लेकर अतिरिक्त सावधानी बरत रहा है।

सभी कर्मचारियों को मास्क पहनने के लिए कहा गया है। मंदिर आने वाले सभी भक्तों को वायरस से बचने के लिए सावधानी बरतने के लिए कहा गया है।

सूत्रों ने बताया कि इस्कॉन प्रबंधन ने कुछ विदेशी भक्तों से मंदिर परिसर में दूसरे विदेशी भक्तों को वायरस के बारे में जागरूक करने को कहा है।

जिला प्रशासन ने भक्तों को बार बार हाथ धोने और मास्क पहनने के लिए कहा है।

जिले के एक अधिकारी ने कहा कि हम लोगों को मथुरा जाने से नहीं रोक सकते क्योंकि होली का त्योहार सिर पर है और यहां पहले से ही हजारों की तादाद में पर्यटक हैं। हालांकि, हम विभिन्न मंदिरों के प्रबंधकों से जागरूकता फैलाने और भक्तों से सावधानी बरतने की अपील कह रहे हैं।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.