Saturday , December 14 2019
Hanging Knot
प्रतीकी चित्र

आईआईटी दिल्ली कैंपस में एक परिवार के 3 सदस्यों की मौत

भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली के परिसर में स्थित एक फ्लैट में एक ही परिवार के तीन सदस्यों का शव पाया गया है। वरिष्ठ प्रयोगशाला सहायक गुलशन दास, उनकी पत्नी सुनीता और उनकी मां कामता के शव शुक्रवार देर रात कुमार के आधिकारिक आवास के अंदर अलग-अलग कमरों में लटकते मिले।

पुलिस ने बताया कि घटनास्थल से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है।

पुलिस के अनुसार, अपनी बेटी के पास जाने में असमर्थ सुनीता की मां ने उन्हें फोन कर घरेलू हिंसा की सूचना दी, जिसके बाद वे आईआईटी कैंपस पहुंचे।

फ्लैट पर पुलिस के पहुंचने के बाद उन्हें दरवाजा अंदर से बंद मिला। हालांकि जब एक पुलिसकर्मी अंदर दाखिल हुए तो उसने शवों को छत से लटकता पाया।

डीसीपी (दक्षिण-पश्चिम) देवेंद्र आर्य ने कहा, “महिलाएं अलग-अलग कमरों में दुपट्टे के सहारे पंखे से लटकी थीं। वहीं गुलशन कॉरीडोर में एक दुपट्टे को ओवरहेड रॉड / पाइप से बांधकर लटका हुआ पाया गया।”

पुलिस ने कहा, “किसी भी शव पर कोई बाहरी चोट के निशान नहीं पाया गया है और घर से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ।”

आर्य ने कहा, “हमनें शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। वहीं हरियाणा में रहने वाले गुलशन के परिवार को घटना के बारे में जानकारी दे दी गई है।”

पुलिस को यह मामला आत्महत्या का लग रहा है।भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान, दिल्ली के परिसर में स्थित एक फ्लैट में एक ही परिवार के तीन सदस्यों का शव पाया गया है। वरिष्ठ प्रयोगशाला सहायक गुलशन दास, उनकी पत्नी सुनीता और उनकी मां कामता के शव शुक्रवार देर रात कुमार के आधिकारिक आवास के अंदर अलग-अलग कमरों में लटकते मिले।

पुलिस ने बताया कि घटनास्थल से कोई भी सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ है।

पुलिस के अनुसार, अपनी बेटी के पास जाने में असमर्थ सुनीता की मां ने उन्हें फोन कर घरेलू हिंसा की सूचना दी, जिसके बाद वे आईआईटी कैंपस पहुंचे।

फ्लैट पर पुलिस के पहुंचने के बाद उन्हें दरवाजा अंदर से बंद मिला। हालांकि जब एक पुलिसकर्मी अंदर दाखिल हुए तो उसने शवों को छत से लटकता पाया।

डीसीपी (दक्षिण-पश्चिम) देवेंद्र आर्य ने कहा, “महिलाएं अलग-अलग कमरों में दुपट्टे के सहारे पंखे से लटकी थीं। वहीं गुलशन कॉरीडोर में एक दुपट्टे को ओवरहेड रॉड / पाइप से बांधकर लटका हुआ पाया गया।”

पुलिस ने कहा, “किसी भी शव पर कोई बाहरी चोट के निशान नहीं पाया गया है और घर से कोई सुसाइड नोट बरामद नहीं हुआ।”

आर्य ने कहा, “हमनें शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए भेज दिया है। वहीं हरियाणा में रहने वाले गुलशन के परिवार को घटना के बारे में जानकारी दे दी गई है।”

पुलिस को यह मामला आत्महत्या का लग रहा है।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *