World

पाकिस्तान मूल के 7 ब्रिटिश नागरिक पेरिस में हिरासत में लिए गए

फर्जी नंबर प्लेट वाली मर्सिडीज और बीएमडब्ल्यू में सफर करते हुए चार पुरुषों और तीन महिलाओं का मामला सामने आया है, मगर उनके नाम का उल्लेखन नहीं किया गया है।

लंदन : पेरिस में इजरायली दूतावास के बाहर एक पुलिस अधिकारी के साथ ‘हिट एंड रन’ के मामले में पाकिस्तानी मूल के सात ब्रिटिश नागरिकों को हिरासत में लिया गया है। फर्जी नंबर प्लेट वाली मर्सिडीज और बीएमडब्ल्यू में सफर करते हुए चार पुरुषों और तीन महिलाओं का मामला सामने आया है, मगर उनके नाम का उल्लेखन नहीं किया गया है। हालांकि, वे पाकिस्तानी मूल के लंदन में रहने वाले निवासी बताए गए हैं।

उनके वाहनों की एक वीडियो भी है और इस समूह को सोमवार रात को चैंप्स एलिसी के नजदीक बेहद सुरक्षित क्षेत्र में स्थित दूतावास के बाहर एक पुलिसकर्मी को धमकाते हुए देखा गया है।

वीडियो निगरानी कैमरों ने एक मर्सिडीज में तीन संदिग्धों के चेहरे और एक बीएमडब्ल्यू में तीन अन्य लोगों के चेहरे सामने आए हैं और माना जा रहा है कि ये सभी एक ही समूह में थे। इसके अलावा एक सातवें संदिग्ध का भी पता चला है, जो इन दोनों ही कार में से किसी में नहीं था।

शाम सात बजे के हमले के बाद, दोनों वाहन भागने में सफल रहे और बाद में उन्हें फ्रांसीसी राष्ट्रपति के आधिकारिक निवास, एलिसी पैलेस के करीब देखा गया था।

फ्रांसीसी पुलिस की ओर से शहर में छानबीन शुरू की गई, जिसके बाद सभी संदिग्धों को मंगलवार तक पेरिस के एक पुलिस स्टेशन में हिरासत में ले लिया गया।

अभियोजकों ने बुधवार को पुष्टि की कि पुरुषों और महिलाओं में से दो नाबालिग हैं और उनकी ‘सार्वजनिक प्राधिकरण में एक व्यक्ति की हत्या के लिए जांच की जा रही है। संदिग्धों को फ्रांस में आजीवन कारावास की सजा सुनाई जा सकती है।

यह घटना 47 वर्षीय शिक्षक सैमुअल पैटी की भीषण हत्या के बाद सामने आई है। पिछले शुक्रवार को एक शरणार्थी इस्लामी आतंकवादी द्वारा शिक्षक की ओर से कक्ष में छात्रों को पैगंबर मोहम्मद का कार्टून दिखाए जाने के बाद हत्या कर दी गई थी।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button