Friday , September 20 2019
Rahul Gandhi
राफेल में मोदी और व्यापम में शिवराज घिरे हैं : राहुल, फोटो - आईएएनएस

राफेल में मोदी और व्यापम में शिवराज घिरे हैं : राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां शुक्रवार को राफेल लड़ाकू विमान खरीद में कथित घपले को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मध्यप्रदेश के चर्चित व्यापम घोटाले को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान को घेरा। चुनावी सभाओं को संबोधित करने आए राहुल ने कहा, “राफेल खरीदी में बड़े पैमाने पर गड़बड़ी हुई है, यही कारण है कि सीबीआई के डायरेक्टर को रात दो बजे हटा दिया गया, मोदी जानते हैं कि अगर जांच हो गई तो सिर्फ मोदी और अंबानी ही फंसेंगे।”

कांग्रेस अध्यक्ष ने आगे कहा कि राफेल खरीद सौदे का देश की रक्षामंत्री तक को पता नहीं था, भाजपा के नेता अरुण शौरी ने भी गड़बड़ी की आशंका जताई है। इस गड़बड़ी में न तो निर्मला सीतारमन का नाम आएगा, न गडकरी और न ही पर्रिकर का, सिर्फ दो नाम आएंगे और वे हैं प्रधानमंत्री और अनिल अंबानी। यह बात प्रधानमंत्री भी जानते हैं, यही कारण है कि सीबीआई के डायरेक्टर को रातोंरात हटा दिया जाता है।

उन्होंने राफेल के बाद मध्यप्रदेश के चर्चित व्यापम घोटाले का मुद्दा उठाया। यह घोटाला देशभर में इसलिए चर्चा में रहा है, क्योंकि भ्रष्टाचार के साथ-साथ यह अब तक 60 से ज्यादा लोगों की जान ले चुका है। इतनी रहस्यमय मौतों के कारण कांग्रेस शिवराज को ‘शवराज’ तक कहने लगी थी।

राहुल ने कहा, “माता-पिता काफी मेहनत कर पैसे जमाकर बच्चे को पढ़ाते हैं, मगर व्यापम उनसे उनका लाडला छीन लेता है।”

उन्होंने कहा, “भारत सरकार का हिंदुस्तान एरोनॉटिक लिमिटेड (एचएएल) लड़ाकू विमान बनाने में सक्षम है, सर्जिकल स्टाइक में जिन हेलीकॉप्टरों का उपयोग किया गया था, वे एचएएल ने ही बनाए थे, मगर प्रधानमंत्री मोदी अपने दोस्त अनिल अंबानी को फायदा पहुंचाने के लिए यह ठेका एचएएल को देने की बजाय अंबानी की एक नई अंबानी को, जिसे जहाज बनाने का कोई अनुभव नहीं है, राफेल का ठेका दिला देते हैं। फ्रांस के राष्ट्रपति ने सार्वजनिक तौर पर कहा है कि हिंदुस्तान का चौकीदार चोर है।”

राहुल ने तीन बार कहा, “चौकीदार..” और जनसमूह से तीनों बार आवाज आई, “चोर है”। यह प्रयोग वह कई जनसभाओं में कर चुके हैं।

कांग्रेस प्रमुख ने आरोप लगाया कि प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी रोजगार, किसान, भ्रष्टाचार की बात करते थे, मगर सत्ता में आने के बाद इन मुद्दों पर कुछ नहीं बोलते। साल में दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने की बात कही, वह हुआ नहीं, किसानों को उचित दाम मिला नहीं, भ्रष्टाचार किसी से छुपा नहीं। राफेल लड़ाकू विमान की खरीद में घोटाला हुआ है। अब उनकी किसी बात में कोई दम नहीं रहा।

राहुल गांधी ने सवाल उठाया कि देश के 15 उद्योगपतियों का साढ़े तीन लाख करोड़ रुपये माफ किया जा सकता है, मगर किसानों का कर्ज माफ करने को सरकार तैयार नहीं है। युवाओं को रोजगार नहीं मिल रहा है।

उन्होंने को कहा कि नरेंद्र मोदी ने चुनाव के समय दो करोड़ युवाओं को रोजगार देने और किसानों को उपज का उचित दाम देने का वादा किया था। हर नागरिक के खाते में 15 लाख रुपये देने का वादा किया, जो पूरी तरह झूठा साबित हुआ।

राहुल ने आगे कहा कि सरकार का जवाब है कि भारत में 24 घंटों में मात्र 450 युवाओं को रोजगार मिलता है, जबकि चीन में 50 हजार लोगों को रोजगार मिलता है। किसानों को उसकी फसल का वाजिब दाम नहीं मिल रहा है।

कांग्रेस प्रमुख ने युवाओं की बदहाली और किसानों की मुश्किलों के लिए मोदी सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि यह सरकार चंद चहेते उद्योगपतियों के लिए काम करती है। इस सरकार के लिए किसान और युवाओं की कोई अहमियत नहीं है।

राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री पर झूठे वादे करने का आरोप लगाते हुए कहा कि कांग्रेस मध्यप्रदेश के किसानों, नौजवानों से खोखले वादे नहीं कर रही है, सरकार बनी तो राज्य को एग्रीकल्चर सेंटर (कृषि का केंद्र) बनाया जाएगा। सरकार बनने पर मुख्यमंत्री दिन में 18 घंटे युवाओं को रोजगार देने के लिए काम करेगा, 10 दिन में किसानों का कर्ज माफ होगा और आने वाले पांच साल में राज्य को एग्रीकल्चर सेंटर बनाया जाएगा।

उन्होंने कहा, “पंजाब और कर्नाटक के किसानों से आप पूछ सकते हैं कि वहां किसानों का कर्ज माफ करने का ऐलान किया था, कांग्रेस की सरकार बनने पर 10 दिन में कार्रवाई शुरू हुई कि या नहीं। जो वादे किए जाएंगे, उन्हें पूरा किया जाएगा।”

राहुल गांधी ने वादा किया कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने पर रोजगार और किसानों को सुविधाएं देने के विशेष कार्यक्रम चलाए जाएंगे। देश में खाद्यान्न आपूर्ति के लिए पंजाब, हरियाणा को पहचाना जाता है, आने वाले पांच साल में मध्यप्रदेश को कृषि सेंटर के तौर पर विकसित किया जाएगा।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *