Friday , November 15 2019
Narendra Modi
कांग्रेस ने मिजोरम में विकास नहीं किया : मोदी, फोटो - आईएएनएस

कांग्रेस ने मिजोरम में विकास नहीं किया : मोदी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने यहां शुक्रवार को मिजोरम में सत्तारूढ़ कांग्रेस के शासन में राज्य में विकास न किए जाने और भ्रष्टाचार को बढ़ावा देने का आरोप लगाया। एक जनसभा संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि कांग्रेस के राज्य में सबसे ज्यादा भ्रष्टाचार देखने के बाद पहाड़ी राज्य की जनता के लिए भाजपा ही एक मात्र विकल्प बचा है।

मोदी ने कहा, “गति और प्रगति हमारी सरकार का मुख्य ध्येय है। जहां काग्रेस राज में पूर्वोत्तर के राज्यों में सिर्फ 100 किलोमीटर रेलवे ट्रैक बना था, अब भाजपा सरकार इससे तीन गुना ज्यादा ट्रैक बिछा रही है।”

उन्होंने कहा, “पूर्वोत्तर में कनेक्टिविटी बाधाएं खत्म करने के लिए रेल की पटरियों के अलावा, नए हवाईअड्डे भी बन रहे हैं और पुराने हवाईअड्डों को उन्नत किया जा रहा है। टेलीकॉम सेक्टर में 5,000 करोड़ रुपये की योजनाएं निर्माणाधीन हैं।”

उन्होंने कहा कि बेहतर कनेक्टिविटी से ना सिर्फ जीवन आसान होगा, बल्कि पर्यटन क्षेत्र में भी प्रगति होगी।

मुख्यमंत्री ललथनहलवा पर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा कि जहां केंद्र ने मिजोरम के लिए रुपये जारी किए हैं तो कांग्रेस सरकार ने उन रुपयों का उपयोग करने तक का कष्ट नहीं उठाया।

मोदी ने कहा, “राज्य सरकार केंद्र द्वारा जारी राशि का सदुपयोग तक न कर सकी। कई मामलों में तो सरकार भी उपयोग की गई राशि पर उपयोग प्रमाण पत्र जारी नहीं कर सकी।”

उन्होंने कहा, “मिजोरम के मुख्यमंत्री के पास लोक निर्माण विभाग तथा ऊर्जा विभाग है लेकिन मिजोरम में लोग अभी भी बेकार सड़कों से परेशान हैं। राज्य सरकार अपनी क्षमता के अनुसार काम नहीं कर सकी। दिवंगत प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने 1998 में तूरियल बांध परियोजना को स्वीकृति दी थी लेकिन इस परियोजना को मैं पिछले साल राज्य के लोगों को समर्पित कर सका।”

मोदी ने कहा कि यदि तूरियल विद्युत परियोजना पूरी तरह संचालित हो जाती है तो मिजोरम पूर्वोत्तर में त्रिपुरा और सिक्किम के बाद तीसरा सबसे बड़ा बिजली अधिशेष्य राज्य बन सकता है।

मिजोरम की 40 विधानसभा सीटों पर 28 नवंबर को मतदान होना है। मतगणना 11 दिसंबर को होगी। मिजोरम पूर्वोत्तर का एक मात्र राज्य है जहां कांग्रेस का शासन है।

शेयर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *