Business

पेट्रोल और डीजल की महंगाई और बढ़ने की आशंका

कच्चे तेल के दाम इजाफा होने से देश में पेट्रोल और डीजल की महंगाई और बढ़ने की आशंका बनी हुई है।

नई दिल्ली : अंतर्राष्ट्रीय बाजार में फिर कच्चे तेल में तेजी लौटी। कच्चे तेल के दाम में गुरुवार को लगातार दूसरे दिन मजबूत बढ़त के साथ कारोबार चल रहा था और बेंचमार्क कच्चा तेल ब्रेंट क्रूड का भाव 69 डॉलर प्रति बैरल के ऊपर बना हुआ था। कच्चे तेल के दाम इजाफा होने से देश में पेट्रोल और डीजल की महंगाई और बढ़ने की आशंका बनी हुई है। देश में पेट्रोल का भाव रिकॉर्ड ऊंचाई पर बना हुआ है। हालांकि अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल के दाम में जोरदार बढ़ोतरी होने के बावजूद 12 दिनों से पेट्रोल और डीजल के दाम में कोई बदलाव नहीं हुआ है।

जानकार बताते हैं कि वैश्विक अर्थव्यवस्था की सेहत में सुधार के संकेत मिलने और कोरोना टीकाकरण अभियान जोर पकड़ने से तेल की खपत मांग में बढ़ोतरी की उम्मीदों से कीमतों में तेजी लौटी है।

अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार इंटरकांटिनेंटल एक्सचेंज (आईसीई) पर ब्रेंट क्रूड के मई डिलीवरी अनुबंध में गुरुवार को बीते सत्र से 2.09 फीसदी की तेजी के साथ 69.32 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल रहा था।

वहीं, न्यूयॉर्क मर्के टाइल एक्सचेंज (नायमैक्स) पर डब्ल्यूटीआई के अप्रैल अनुबंध में बीते सत्र से दो फीसदी की तेजी के साथ 65.73 डॉलर प्रति बैरल पर कारोबार चल था।

इंडियन ऑयल की वेबसाइट के अनुसार, दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में पेट्रोल के दाम क्रमश: 91.17 रुपये, 91.35 रुपये, 97.57 रुपये और 93.11 रुपये प्रति लीटर पर स्थिर बने हुए हैं। डीजल की कीमतें भी दिल्ली, कोलकाता, मुंबई और चेन्नई में स्थिरता के साथ क्रमश: 81.47 रुपये, 84.35 रुपये, 88.60 रुपये और 86.45 रुपये प्रति लीटर पर बनी हुई हैं।

Show More

Leave a Reply

Your email address will not be published.